what is Google Adsense In Article In | Feed Native Ads जानिए Hindi me 2022

what is Google Adsense In Article In | Feed Native Ads? जानिए हिंदी में !!

बढ़ती हुई डिजिटल दुनिया के साथ साथ आजकल विज्ञापन भी डिजिटल होने लगे है। पहले के तरह अब अख़बार और पर्ची से ज्यादा फेसबुक,इंस्टाग्राम और वेबसाइट पर दिखने वाले Ads पर ज्यादा नजरे जा रही है। इसके मूल रूप से 2 ही कारण हो सकते है।
पहला यह के आजकल हर किसी के पास Samart Phone उपलब्ध है और दूसरा यह के आजकल News पढ़ने के लिए अख़बार कौन खरीदता है!

यह भी देखा गया है कि Website और Apps पर लगने वाले Adds में ज्यादा response मिलता है। क्यों के इस Adds पर click करते ही आप सीधे सीधे उस Webpage पर जाकर Adds के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर सकते है। भला News paper में Add देख कर कौन उसे याद रखके Mobile में ढूंढने वाला है!

दोस्तों, आज हम आपको बताने वाले है Google Adsense के दो बहतरीन Adds feature ; इनआर्टिकल(In-article) और इनफीड(In-feed) native Adds के बारे में।

तो चलिए में  Google Adsense In Article InFeed Native Ads क्या होता है ये बताता हूँ
आशा है आप  इससे जरूर कुछ नया सिख कर उससे फायदा पा सकते है।

Google Adsense क्या है?

जो भी ब्लॉगर बंधू हमारे यह पोस्ट पढ़ रहे है वे इस सब्द से अच्छे से वाकिफ होंगे कि Google Adsense क्या होता है और इससे क्या क्या फायदे मिलते है। सिर्फ ब्लॉगर बंधू ही नहीं बल्कि जो वेबसाइट चलाते है या फिर यूट्यूब पर वीडियो बनाते है उन्हें भी यह अच्छे से पता रहता है। Google AdSense, गूगल के द्वारा चलाया जाने वाला एक प्रोग्राम है जिसमे की एक वेबसाइट या फिर ब्लॉग में पोस्ट करने के लिए Adds देता है।

इसे भी पढ़े:

10+ Best SEO Tool for beginners in Hindi | seo कैसे करते हैं

इसके लिए ब्लॉगर और वेबसाइट पब्लिशर को अच्छा खासा पैसा भी मिलता है। आज यह एक सुरक्षित और भरोसेमंद ऑनलाइन इनकम का स्रोत है।
अगर आप ब्लॉगिंग में नए है और Google Adsense से पैसा कमाना चाहते है, तो हम किसी दूसरे पोस्ट में बिस्तार से इस बारे में चर्चा करेंगे। इस बारे में ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहिये।

Google Ads कितने प्रकार के होते है?

दोस्तों, इन-Article Ads और In-Feed Ads के बारेमें जानने से पहले आइये जान लेते है कि Google Ads कितने प्रकार के होते है।

1-Text Ads

यह एक basic google ad होता है, जिसमे के एक हैडलाइन, एक डिस्क्रिप्शन, और वेब एड्रेस होता है।
इसमें आपको ज्यादा कुछ जानकारियां नही दी जाती। ऐड में दिए गए वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करके आप सीधे वेबसाइट पर पहंच सकते है।

2-Responsive search Ads

यह भी टेक्स्ट एड के तरह ही होते है, मगर इनमे कुछ ज्यादा जानकारियां होती है। इसमें हेडलाइंस के लिए ज्यादा लाइन मिलते है। यह बिलकुल टेक्स्ट ऐड के तरह ही काम करते है।

3-Dynamic search Ads

यह आपके वेबसाइट से मिलता जुलता ऐड आपके वेबसाइट पर दिखता है। गूगल आपके वेबसाइट को एनालाइज करके उसमें ऐड दिखता है।

4-Image Ads

इसमें ऐड के तौर पर फोटो दिखाया जाता है। फोटो पर क्लिक करते ही आप सीधे वेबसाइट पर जा पहंचते है।

इसे भी पढ़े:

Best Blogging Ideas 2022 In Hindi | आपको अपने ब्लॉग पर नई पोस्ट लिखने का आईडिया कैसे लाये, पूरी जानकारी हिंदी में

5-App promotion Ads

काफी सारे नए एप्स इस तरह के प्रमोशन को चुनते है। इसमें नए एप को प्रमोट किया जाता है।

6-Video Ads

आप यूट्यूब पर वीडियो देखते वक़्त ये ऐड जरूर देखें होंगे। इसमें कई सारे कंपनी अपनी प्रोडक्ट और सर्विस के लिए शार्ट वीडियो ऐड बनाते है।

7-Product Shopping Ads

ज्यादातर फ्लिपकार्ट, ऐमज़ॉन इस टाइप के ऐड को इस्तेमाल करते है। इसमें आपको प्रोडक्ट्स के कुछ डिटेल्स भी दिखाया जाता है।

8-Showcase shopping Ads

यह product shopping ads के तरह ही होते है। इसमें एक से ज्यादा प्रोडक्ट्स एक साथ दिखाया जाता है। व्यूअर अपने मन मुताबिक प्रोडक्ट देखकर उसपे क्लिक कर सकता है।

9-Call only Ads

यह सिर्फ फ़ोन नंबर दिखता है। यह एड लोकल्स के लिए बहतर एड साबित होते है। जैसे के लोकल ट्यूशन, शॉप अदि।

Google Native Ads क्या होते है?

गूगल नेटिव एड्स आपके वेबसाइट के लिए सबसे बहतरीन माना जाता है। इस एड में आपके वेबसाइट या ब्लॉग को नजर में रखते हुए आपके थीम, कंटेंट अदि को मैच करते एड्स दिखया जाता है। इसमें दिखने वाले एड्स आपके वेबसाइट या फिर ब्लॉग कंटेंट्स से बिलकुल मेल खाते है।

इसे भी पढ़े:

WordPress Hosting Kya Hai | वर्डप्रेस होस्टिंग क्या है? पूरी जानकारी 2022

Google native ads Features-

बहतरीन यूजर एक्सपीरियंस

नेटिव एड्स वीवर्स और यूज़र्स को एक बहतरीन एक्सपीरियंस देने के लिए बनाये जाते है। दूसरे एड्स क़ मुकावले यह एड्स वेबसाइट या ब्लॉग के थीम, कंटेंट और स्पेस से मिल जाते है।

Ads with predefine size एंड pixel

इस प्रकार के ऐड में एड्स के एजे पहले से डिफाइन किया होता है। पब्लिशर उस हिसाब से अपना एड तैयार करता है।

Mobile friendly

यह एड्स मोबाइल फ्रेंडली होते है। मोबाइल यूज़र्स इन ऐड को बहतर तरीके से देख सकते है। यह मोबाइल के स्क्रीन साइज को नजर में रखके बनाया जाता है।

InArticle Ads क्या होते है?

InArticle एड्स वेबसाइट या ब्लॉग्स के पैराग्राफ के बीच में दिखाया जाता है। इस प्रकार के एड्स को आप सिर्फ और सिर्फ पैराग्राफ के बीच में ही रख सकते है। यह एड्स न तो पेज के साइड में या छीर ऊपर नीचे कहीं और जगह नहीं रख सकते।

Feature-

पैराग्राफ के बीच में ही दिखाया जाता है।
यह एड्स पैराग्राफ के बीच में ही दिखाया जाता है। जिसमे के ऐड पर विजिट के चान्सेस ज्यादा होते है।

मोबाइल फ्रेंडली

यह एड्स मोबाइल फ्रेंडली होते है। यह एड्स आपके वेबसाइट के हिसाब से कस्टमाइज होते है इसलिए यह एड्स यूज़र्स को ज्यादा पसंद आते है।

आप इन एड्स को कस्टमाइज कर सकते है।

यह एड्स के साइज क्या होंगे और किस पैराग्राफ के बाद दिखाया जाएगा यह आप कण्ट्रोल कर सकते है।
कस्टमाइज ऑप्शन में जाकर आप यह सब चुन सकते है।

InArticle एड्स में इतने सारे फीचर्स के होने से यह ब्लॉगर को एक बहतरीन कण्ट्रोल फीचर्स प्रोवाइड करता है कि वो किस प्रकार के एड्स अपने वेबसाइट पर दिखाए, एड्स के साइज अदि अपने थीम के हिसाब से चुनकर अपने वेबसाइट या ब्लॉग में पोस्ट करते है।

InFeed एड्स क्या होते है?

दोस्तों, जहाँ पर आप अपने वेबसाइट के फीड्स( टॉप कंटेंट, पेजेस अदि) यह ऐड आपको यहाँ शो करने होते है। अपने टॉप आर्टिकल के लिस्ट के बीच में हो या प्रोडक्ट लिस्ट हाई कस्टमाइज्ड होने के वजह से यह एड्स उनमे बहतर फिट होते है। InArticle एड्स के तरह ही इसका सारा कण्ट्रोल आपके पास होता है। आप किस फीड के बीच इसको दिखाये, एड्स के साइज अदि अपने वेबसाइट कंटेंट्स से मैच होता एड्स ही आप दिखाते है।

 

यह एड्स मोबाइल फ्रेंडली होते है। इससे आपके वीवर्स को एक बहतरीन एक्सपीरियंस मिलता है। आपके कंटेंट्स से मैच हुआ एड्स के वजह से यूज़र्स इससे परेशान भी नहीं होते।

इसे भी पढ़े:

Blog पर Table of Contents कैसे Add करे

Leave a Comment