18.1 C
New York
Tuesday, May 17, 2022

Buy now

तरबूज खाने के 10 फायदे ! और तरबूज खाने के नुकसान !

तरबूज खाने के 10 फायदे ! गर्मी के मौसम में शायद ही कोई होगा जिसने तरबूज का लुफ्त न उठाया हो। सिर्फ गर्मी के मौसम में मिलने वाले ये सीजनल फल देखने में गोलाकार और हरा रंग का होता है। तरबूज के अंदर लाल रंग के गुदे होते है जो के बहत ही रसीले और मीठे होते है। अफ्रीकन मूल के यह फल 4थी सताब्दी तक भारत पहंच चूका था। तरबूज कि लोकप्रियता को देख भारतवासी इसके खेती करने लगे।

7वी सताब्दी में भारी मात्रा में इसके खेती होने लगे थे। तरबूज की वर्णन हमे सुश्रुत (सुश्रुत संहिता के रचयिता) के लेख से भी मिलता है। उस ज़माने में यह इंडस रिवर वैली (सिंध नदी के किनारे) के इलाके में इसे उगाया जाता था। यह फल में पानी के मात्र ज्यादा होने के कारण इसको गर्मी के मौसम में ज्यादा पसंद करने लगा।

यह न सिर्फ आपके प्यास बुझाते है बल्कि आपके शारीर को पर्याप्त पानी मुहैया कराकर शारीर से पानी की खपत को भी पूरी करता है। तो दोस्तों आज हम बात करने जा रहे है भारत में गर्मी के मौसम में भारी मात्रा में पाए जाने वाला फल तरबूज के बारे में। इसके साथ साथ हम तरबूज से जुडी कुछ रोचक बातें और तरबूज खाने के 10 फायदे भी जानेंगे !

तरबूज का इतिहास

 

तरबूज
तरबूज

पहले से तरबूज आजके जैसे मीठा और रसीला नहीं था। तर्भुज पहले एक जंगली फल हुआ करता था। उस प्रजाति के गुदा आज के मुकावले कड़वे और पीले रंग के हुआ करते थे। क्रमिक विकाश से इसे आज मिलने वाले फल में रूपांतरित किया गया है। जब की आपको पता है कि यह अफ्रीकीय महाद्वीप में मिलने वाले फल होते थे, पर वैश्विकरण के चलते यह 4थी सताब्दी तक भारत आ गया था। तब से लेकर आज तक यह फल भारत वर्ष में उगाया जाता है।

इसे भी पढ़े:

सुबह जल्दी कैसे उठे उपाय

तरबूज खाने के 10 फायदे !

जैसे की आपको पता है कि इसके गुदे में ज्यादातर पानी ही भरा रहता है और आपको यह भी मालूम होगा कि पानी हमारे शारीर के लिए कितना उपयोगी है। गर्मी के मौसम में मिलने के कारण यह और भी लोकप्रिय है।

तरबूज खाने के फायदे क्या है?

1- शारीर में पानी के कमी को पूरा करता है

पानी शारीर के लिए एक आबश्यक तत्व है। इसके कमी के कारण हमारे शारीर सुस्त पड़ने लगता है। शारीर में ज्यादा पानी के कमी से सर चकरा भी सकता है। तर्भुज में पानी के मात्र ज्यादा होने के कारण यह शारीर में पानी की खपत को पूरे करने में सहायक रहता है।

2- शारीर को आवश्यक पोषण को पूरा करता है

तरबूजमें पोटैशियम, मैग्नीशियम और विटामिन्स महजूद होते है। यह न सिर्फ आपके शारीर को ठण्ड रखता है बल्कि कई सारे पोषण भी देता है। शारीर में इस तरह के पोषण के कमी को आप दूर करने के लिए तर्भुज का सेवन कर सकते है।

3-मुहांसे से  छुटकारा-

आयुर्वेद में कफ-पित्त के शारीरिक प्रकृति से मुहं में मुहांसे आते है। तर्भुज इसको रोकने में आपकी मदद कर सकता है। गर्मी के मौसम में आप इसे रोज सेवन करने से आपको बदलाव जरूर दिखेंगे।

4- रक्त चाप नियंत्रण में सहायक

तरबूज में ऐसे पोषक तत्व होते है जो आपके उच्च रक्त चाप को नियंत्रण करने में सक्षम रहते है। तरबूज कि नियमित सेवन से आप उच्च रक्त चाप को नियंत्रण में ला सकते है।

5- पत्थरी को न बनने देना

तरबूज के सेवन आपको गुर्दे में बनने बाले पत्थरी को रोकने में सहायक रहता है। शारीर में पानी की भरमार और टॉक्सिक पदार्थो का निष्कासन से यह आपके गुर्दे में पत्थरी को बनने से रोकता है।

इसे भी पढ़े:

सुबह जल्दी उठने के फायदे और जानिए सुबह जल्दी उठने के उपाय!

6- धात के दोष से मुक्ति

आजकल के युवा पीढ़ी में खानपान के गलत तरीके, ज्यादा जंक फूड के सेवन, सराब के सेवन अदि से धात या धातु के रोग के लक्षण नजर आते है। जो तो एक आम बीमारी मानी जाती है लेकिन भविष्य में इसके परिणाम बेहद ही नकारात्मक रहता है हमारे शारीर पर। तरबूज के सेवन से शारीर में पानी के कमी के साथ साथ यह शारीर को ठंडा रखने में भी मदद करता है और धात के रोग से भी मुक्ति दिलाती है।

7- नजरकी कमजोरी को ठीक करना

आपके चाहे पास की नजर या दूर नजर की कमजोरी हो तो यह वाकई में चिंता की बिषय है। तरबूज में कुछ ऐसे पोषक तत्व पाए जाते है जो आपके नजर के साथ साथ आपके आँखों के सेहत के लिए भी लाभ दाई है।

8- डिप्रेशन से मुक्ति

डिप्रेशन आज के ज़माने में शायद सबसे ज्यादा पाए जाने बाली मनोबैज्ञानिक रोग है। यु तो यह एक रोग है या नही यह भी तर्क के विषय है। मगर तर्भुज के सेवन आपके शारीर को ठंडा रखने के साथ साथ आपके मन पर भी प्रभाव डालता है। यह आपके मन में फुर्ती के लेन में सक्षम है।

9- पेट जलन से छुटकारा

पेट में जलन हो या साइन में जलन तरबूज हर एक अंदरूनी जलन को मिटा सकता है। ऐसी जलन से छुटकारा पाने के लिए आप अधिक से अधिक मात्रा में तरबूज खा सकते है मगर ध्यान रहे जरुरत से अधिक नहीं खाना है।

10- लिवर के लिए लाभप्रद

तरबूज का सेवन लिवर के लिये अच्छा होता है। यह लिवर के कार्य कुशलता को सक्रीय बना देता है।

इसे भी पढ़े:

पाचन तंत्र को कैसे मजबूत कैसे करे?

तरबूज के और भी है फायदे –

अपने यह तो जान लिया कि तरबूज के सेवन से क्या के फायदे मिलते है आइये तरबूज के कुछ और फायदे जानते है

  •  ज्यादातर लोग तरबूज खाके उसके छिलके और बीज को फ़ेंक देते है। मगर उसके बिज और छिलके भी आपके काम आ सकते है।
  • तरबूज के बीज को न फेंक कर उससे सूखा लोजिये। बिज सूखने के बाद उसे तोड़ कर उसकी गिरी निकाल कर रखे। तरबूज के बीज के गिरी को आप वेसे भी खा सकते है या फिर उसके पाउडर बनाकर उसे दूध के साथ सेवन भी कर सकते है। उसके सेवन से बालों झड़ना काम होता है, पुरुषो में धात की बीमारी को भी ठीक कर सकता है।
  • तरबूज के हरे छिलके को आप पीस कर उसे फेस मास्क के तरह इस्तेमाल करे। उससे आपके त्वचा में चमक के साथ साथ झुर्रियां और मुहांसे भी कम होते है। यह फेस मास्क आपके बढ़ती उम्र के झलक को आपके त्वचा से दूर कर देता है।
  • तरबूज के गुदा और उसके छिलके के बीच के सफ़ेद से हिस्से को आप खा सकते है। उसकी सब्जी बन सकती है और आप उससे अपने बच्चों के लोये टूटी-फ्रूटी भी बना सकते है। यह भी तरबूज के जितने फायदेमंद है।

तरबूज के सेवन करने का तरीका !

  •  अगर आप तरबूज को सही से इस्तेमाल करे तो यह अमृत समान बन जाता है , मगर इसके गलत तरीके से इस्तेमाल आपको हानि पहंचा सकता है।
  • तरबूज को दिन में ही खाये। रात में खाने से इसमें ज्यादा पानी के मात्र के वजह से आपको बार बार पिसाब जाना पड़ सकता है। जिससे आपके नींद में कमी आ सकती है।
  • एक ही बार में तर्भुज 100 से 200 ग्राम तक ही खाये, और ज्यादा से ज्यादा 3 बार ही खाये। उससे ज्यादा नहीं। *तर्भुज खाने के तुरंत बाद अगर आपको प्यास लगती है तो भूल से भी पानी नहीं पीना चाहिए।
  • अगर तरबूज खाने के बाद आपको प्यास लगती है या आपके पेट में दर्द महसूस होता है तोह गर्म चाय पीजिये इससे आपको आराम मिलेगी। अगर आप चाय के शौखिन नहीं है तो फिर आप मीठा पानी पी सकते है।
  • तरबूज के साथ दूसरे फल को मिलकर न खाएं। अगर खाना है तो सिर्फ तर्भुज ही खाये या फिर न खाए, मगर इसे दूसरे फलों के साथ मिलाकर खाने से पेट में दर्द होने के संभावना को बढ़ा देती है।

तरबूज खाने के नुकसान-

तरबूज के कुछ नुकसान भी होते है।

  • ज्यादा तर्भुज खाने से आपको उलटी भी हो सकता है।
  • तर्भुज में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है। इसिलिए शुगर के बीमारी से ग्रस्त ब्यक्ति बिसेष के लिए यह बर्जित है। आप तर्भुज न ही खाये तोह अच्छा है।
  • कभी कभी तर्भुज खाने के बाद पेट में दर्द होना सुरु हो जाता है। मगर इससे घबराये नहीं। इससे छुटकारा पाने के लिए आप चाय पी सकते है।

आखरी शब्द

तो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हमने तरबूज के विषय में जाना। हमने जाना कि खाने के क्या-क्या फायदे हैं?और क्या नुकसान है? इसी के साथ हमने तरबूज के इतिहास के विषय में भी चर्चा की! उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी।आप अपनी राय हमें कमेंट करके जरूर बताइए।

इसे भी पढ़े:

जानिए, सुबह खाली पेट पानी पीने के भयंकर फायदे और नुकसान !

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

6,791FansLike
6,391FollowersFollow
3,699SubscribersSubscribe

Latest Articles