UGC NET JRF 2022 Kya hai?

UGC NET JRF 2022 Kya hai?

UGC NET JRF 2022, UGC NET Syllabus, यूजीसी नेट जेआरएफ 2022
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) पीएचडी एडमिशन व असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति के लिए एक पात्रता परीक्षा आयोजित करती है, जिसे UGC NET JRF 2022 के नाम से जाना जाता है। NET की परीक्षा पास कर लेने के बाद अभ्यर्थी देश के किसी भी सरकारी या गैर-सरकारी कॉलेज/यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद के लिए पात्र माने जाते हैं।
इस लेख में आगे हम यूजीसी नेट क्या है? NET JRF Full Form, नेट और जेआरएफ में अंतर क्या है?, NET और CSIR क्या है? नेट जेआरएफ परीक्षा के लिए पात्रता, Age limit, Application fee, Syllabus इन सबके बारे में विस्तार से जानेंगे।
UGC NET JRF 2022 क्या है?
UGC NET विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के द्वारा करवाई जाने वाली एक पात्रता परीक्षा है, जिसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों को किसी भी सरकारी या गैर-सरकारी कॉलेज/यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति के लिए योग्य माना जाता है। UGC यह परीक्षा National Testing Agency (NTA) के माध्यम से वर्ष में दो बार आयोजित करवाती है। इस परीक्षा को पास करने वाले अभ्यर्थी सहायक प्रोफेसर पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।
साथ ही इस परीक्षा को पास करने के बाद किसी विश्वविद्यालय में पीएचडी एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा से छूट मिलती है। UGC NET पास अभ्यर्थी बिना प्रवेश परीक्षा दिए सीधे मौखिक परीक्षा(Viva) या इंटरव्यू देकर पीएचडी में एडमिशन ले सकते हैं। एक बार NET परीक्षा पास करने के बाद अभ्यर्थी को 2 वर्ष के अंदर पीएचडी में एडमिशन लेना होता है। अगर वह 2 वर्ष के अंदर एडमिशन नहीं लेता है तो उसका NET Result पीएचडी एडमिशन के लिए अमान्य हो जाता है।
NET JRF Full Form क्या है?
• NET Full form – National Eligibility Test या राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा
• JRF Full Form – Junior Research Fellowship
UGC नेट और जेआरएफ में मुख्य अंतर क्या है?
• UGC नेट की परीक्षा में शामिल हुए कुल अभ्यर्थियों में लगभग 6% अभ्यर्थियों का चयन NET के लिए होता है, जबकि कुल अभ्यर्थियों का लगभग 0.6% अभ्यर्थी जेआरएफ के लिए चयनित होते हैं। इन दोनों के लिए एक ही परीक्षा होती है।
• NET पास अभ्यर्थी अस्टिटेंट प्रोफेसर के लिए पात्र माने जाते हैं तथा इन्हें पीएचडी एडमिशन में प्रवेश परीक्षा से छूट मिलती। लेकिन JRF पास अभ्यर्थी को इन दोनों फायदों के साथ-साथ किसी केंद्रीय विश्वविद्यालय में पीएचडी में एडमिशन लेने पर पांच वर्ष तक के लिए फेलोशिप/छात्रवृत्ति मिलती है।
• वर्तमान में JRF को 31,000 प्रति माह तथा 2 वर्ष बाद JRF को SRF में प्रमोट करके 36,000 प्रति माह फेलोशिप दी जाती है। इसके अलावा रहने के लिए HRA अलग से मिलती है।
NET और CSIR क्या है?
• NET की परीक्षा कला (Arts) और वाणिज्य (Commerce) के अभ्यर्थियों के लिए होती है जबकि CSIR विज्ञान(Science) के लिए होती है।
यूजीसी नेट जेआरएफ परीक्षा में शामिल होने के लिए एक आवश्यक पात्रता UGC NET JRF 2022 Eligibility :
• UGC NET के लिए आवेदन करने वाला अभ्यर्थी भी मान्यता प्राप्त विषय में पोस्ट ग्रेजुएशन (PG) पास हो या PG की पढ़ाई कर रहा हो।
• पोस्ट ग्रेजुएट में न्यूनतम 55% अंक हो। आरक्षित वर्गों(SC/ST/OBC-NCL),PwD और Transgender को 5% की छूट है।
Age Limit :
UGC NET (Assistant Professor) के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है। लेकिन JRF के लिए निम्नलिखित आयु सीमा निर्धारित की गई है –
• General – 31 years
• OBC NCL, SC, ST, PwD, Transgender – Upto 5 years Relaxation (36 years)
• Extra 3 years Relaxation for L.L.M. Degree holders
• Extra 5 years Relaxation for Armed forces
Application Fee :
• General/UR – ₹1100
• Gen-EWS/OBC-NCL – ₹550
• SC/ST/PwD/Transgender – ₹275
Note : आवेदन शुल्क अक्सर बदलती रहती है। ये आवेदन शुल्क वर्ष 2022 की है।
UGC NET JRF 2022 Syllabus/ Examination Pattern :
• यूजीसी नेट की परीक्षा में दो Paper होते हैं, Paper-1 और Paper-2. पेपर-1 में 50 प्रश्न पूछे जाते हैं तथा पेपर-2 में 100 प्रश्न।
• पेपर-1 के प्रश्न शिक्षण एवं शोध अभियोग्यता (Teaching and Research Aptitude) के होते हैं तथा पेपर-2 आपके PG विषय का होता है।
• दोनों पेपर मिलाकर कुल 150 प्रश्नों के लिए अभ्यर्थी को 3 घंटे(180 मिनट) का समय मिलता है।
• प्रत्येक प्रश्न दो अंकों के होते हैं तथा इसमें कोई निगेटिव मार्किंग नहीं होती है।
• परीक्षा CBT यानी कंप्यूटर मोड आधारित होती है।
• Language Subjects को छोड़कर बाकी सभी पेपर हिन्दी और अंग्रेजी दोनों माध्यम में होती है।
• सभी प्रश्न बहुविकल्पीय(MCQ) प्रकार के होते हैं।
• NET की परीक्षा के लिए UGC ने कुछ 82 विषय निर्धारित किए हैं,जिसे आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं।  आप उसी विषय में NET के लिए फॉर्म भर सकते हैं जिस विषय से आपने PG किया है।
• अगर आपका PG विषय UGC की Subject List में नहीं है तो आप आप उससे मिलते-जुलते विषय के लिए फॉर्म भर सकते हैं।
UGC NET Paper-1 Syllabus :
यूजीसी नेट के पेपर-1 में 10 यूनिट से प्रश्न पूछे जाते हैं। प्रत्येक यूनिट से सामान्यतः 5-5 प्रश्न होते हैं। ये 10 यूनिट हैं :-
1. टीचिंग एबिलिटी
2. रिसर्च एप्टीट्यूड
3. कॉम्प्रिहेंशन
4. संप्रेषण
5. मैथमेटिक्स रिजनिंग एंड एप्टीट्यूड
6. लॉजिकल रिजनिंग
7. डाटा इंटरप्रिटेशन
8. सूचना और संचार प्रौद्योगिकी
9. नागरिक विकास और पर्यावरण
10. उच्च शिक्षा प्रणाली
UGC NET Paper-2 Syllabus :
पेपर 2 का सिलेबस आपके मूल विषय से संबंधित होता है। इसके कुल 100 प्रश्न होते हैं। इस पेपर के प्रश्न UG और PG लेवल के होते हैं। अलग-अलग विषयों के लिए अलग-अलग पैटर्न होते हैं। इसे आप यूजीसी नेट की आधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं।

Leave a Comment